You Are Here: Home » Punjab » बहन के थे अवैध सबंध , भाई के साथ किया ऐसा के आप सोच भी नहीं सकते (देखें पूरी रिपोर्ट)

बहन के थे अवैध सबंध , भाई के साथ किया ऐसा के आप सोच भी नहीं सकते (देखें पूरी रिपोर्ट)



फरीदकोट (नरेश सेठी ) कोटकपूरा में सगे रिश्तों में खून सफ़ेद होने  का मामला सामने आया जब अवैध स्मन्धो को छुपाने के लिए एक बहन ने अपने ही सगे भाई को नहर में फिकवा के मरवा दिया।पांच बहनों का अकेला भाई अपनी ही सगी बहन की दरिंदगी का शिकार हो गया।भाई का कसूर ये था के उसको अपनी बहन का अपने ही फुफेरे भाई के साथ गलत रिश्तों का पता चल गया था ओर बहन नही चाहती थी के ये बात किसी ओर को पता चले और अपने अवैध सम्बन्धों को छुपाने के लिए अपने प्रेमी जो के उसकी सगी भुआ का बेटा है को कहकर अपने भाई को नहर में फिकवा दिया।इस अभागे भाई का शव आज पांच दिन बाद नहर से बरामद कर लिया गया है और पुलिस दुआरा दोनों आरोपीयो को गिरफ्तार कर लिया गया है।

आज इस मामले की जानकारी एक प्रेस वार्ता दौरान करते हुए DSP मनबीर इंद्र सिंह ने बताया के 19 मार्च को कोटकपूरा का रहने वाला अर्शदीप नामक नाबालिब लड़का घर से लापता हो गया था जिसको अगवा किये जाने की  आशंका जताते हुए  घर वालो की तरफ से पुलिस को शिकायत दर्ज करवाई गई थी ।वही इस मामले की छानबीन दौरान फोन कॉल्स की मदद से शक अर्शदीप की बहन सरबजीत पर गया और साथ ही इसके फुफेरे भाई गुरप्रीत पर भी इसका शक गया जिनको हिरासत में लेकर पूछताश की गई तो सामने आया के सरबजीत ओर गुरप्रीत जो आपस मे मामा भुआ के बेटा बेटी है के बीच मे अवैध सम्बंद थे जिनका पता उनके छोटे भाई अर्शदीप को चल गया था।इस बात को छुपाने के लिए दोनों ने आपस मे सलाह कर अर्शदीप को रास्ते से हटाने की योजना बनाई और गुरप्रीत दुआरा अर्शदीओ को बहला फुसला कर अपने साथ फ़रीदकोट ले गया और रास्ते मे सरहंद नहर पर पेशाब जाने के बहाने उसे पटड़ी पर ले गया और उसे नहर में धक्का दे दिया जिस कारण अर्शदीप नहर में ड़ूब गया।इन के बयानों के बाद पुलिस दुआरा नहर पर चौकसी बढ़ा कर निगरानी शुरू की गई और आज पांच दिन बाद अर्शदीप का शव फिडे कलां गांव के पास से बरामद कर लिए गया है।इन दोनों
के खिलाफ 302 ipc की धारा तहत मामला दर्ज कर लिए गया है और आगे की कार्रवाई ज़ारी है।

About The Author

Journalist

Number of Entries : 3067

Leave a Comment

Close
Please support the site
By clicking any of these buttons you help our site to get better
Scroll to top